गुणवत्ता नीति

प्रस्तावना

भगिनी निवेदिता कॉलेज की नीति कॉलेज के प्रबंधको की दूर दृष्टि दर्शाता है , महिला सशक्ति करण और समाज में महिलाओं की भागेदारी के साथ साथ संगठनात्मक सोच को उभारकर उन्हें समाज में बेहतर नेतृत्व के काबिल बनाना ही संस्था का मुख्य उद्देश्य और लक्ष्य है ।

कॉलेज के बारह उद्देश्यों में उत्कृष्टता ही मुख्य रूप से अन्तर्निहित है और गुणवत्ता बनाए रखने की प्रतिबद्धता ही उद्देश्यों का आतंरिक विषय है जो यह निश्चित करता है की शैक्षनिक, कार्मिक और प्रशासनिक स्तर पर उत्कृष्ट तरीकों से सर्वोत्तम सेवाएं और संसाधन उपलब्ध कराए जा सकें ।

यू जी सी के दिशानिर्देशों के अनुसार गुणवत्ता और नियामक नीति का एकीकरण करके कॉलेज में एक आतंरिक गुणवत्ता प्रबंधन विभाग की स्थापना की गई है । संस्था उस नीति का भी ध्यान रखती है जो हाल ही में दिल्ली विश्व विद्यालय द्वारा नैतिक आचरणों को ले कर दिशा निर्देशित किये गए हैं शिक्षा शिक्षक और शैक्षिक संस्था के अंतर्गत आने वाले सभी बात व्यवहार का ख़ास ख्याल रखा गया है साथ ही संस्था में नामांकन , परीक्षा के समय संचालन उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन के साथ शिक्षक उन नैतिक आचरणों का भी परिवर्धन और परिमार्जन करे जिससे संस्था गौरवान्वित हो ।

संस्था की नीति NAAC द्वारा एक आदर्श विद्यार्थी की गुडवत्ता को भी बनाए रखने की है जिसके तहत शिक्षार्थियों को केवल उच्च शिक्षा देना ही नहीं बल्कि उच्च शिक्षा के अन्तर्निहित उन मानदंडों और ज़िम्मेदारियों का अहसास करना भी है जिसमे आदर्श विद्यार्थी उच्च शिक्षा प्राप्त कर अपने व्यवहार को संकेंद्रित कर जवाबदेही के साथ ज़िम्मेदारियों का निर्वहन और निर्माण कर सके और उच्च शैक्षिक समाज में एकाकी व्यक्तित्व के रूप में पहचान बना सके।

यह गुणवत्ता नीति कॉलेज की आंतरिक गुणवत्ता आश्वासन सेल (IQAC ) द्वारा शुरू की गयी और कॉलेज के संचालन निकाय के अनुमोदन के साथ जारी की गयी है जो एक पूर्ण और उदार रूप में दी गयी सहायता है ।

गुणवत्ता नीति के उद्देश्य

  1. एक ऐसी नीति का निर्माण करना जो खुद में ईमानदार सक्षम और पारदर्शी हो जिससे न केवल संस्था की नैतिक ज़िम्मेदारी का निर्वहन हो बल्कि उसे परिवर्धित और परिमार्जित करते हुए संस्थागत संस्कृति को संस्था के दृष्टिकोण से और भी दृढ़ता प्रदान करे ।

  2. ऐसे नियामक तैयार करना जिससे गुणवत्ता प्रबंधन प्रणाली का सही तरीके से क्रियान्वयन और अनुपालन कराया जा सके जिससे संस्था की उचित मानको के साथ समसामयिकता बनी रहे।

  3. ऐसे वातावरण का निर्माण करना जिसमे मानव संसाधन प्रबंधन की सहायता से शिक्षको को शैक्षणिक स्तर पर पेशेवर और विकास उन्मुखी अवसरों को समझने तथा उन्हें शिक्षा में पिरोने की कला का परिमार्जन हो सके ।

  4. समय समय पर वास्तविक वैश्वीकरण के अनुरूप संकाय और कार्मिकों को प्रशिक्षित करना और उनकी जानकर को नूतन बने रखना भी संस्था की एक अहम ज़िम्मेदारी है ।

  5. ऐसे वातावरण का निर्माण करना जिसमे शैक्षणिक अनुभवों को उपलब्ध संसाधनो के तहत अधिकतम उपयोगिता के साथ समृद्ध बनाया जा सके और जिसका लगातार मूल्यांकन कर कोशिश की जाती है की शैक्षणिक गुणवत्ता जिसमे पाठ्यक्रम और पाठ्यक्रमोत्तर क्रियाकलापों में सुधार की संभावना भी बनी रहे।

  6. ऐसी सहायक सेवाएं और शिक्षण-अधिगम प्रेरित करने वाले माहौल को मुहैया कराना जो छात्रों की अवधारणा को प्रोत्साहित करे और उपलब्धि दिलाए।

  7. अपनी सेवाओं में सुधार हेतु छात्रों एवं अन्य हिस्सेदारों की प्रतिक्रिया प्राप्त करने हेतु साधन मुहैया कराना।

  8. एक ऐसी गुणवत्ता आश्वासन प्रणाली को स्थापित करना एवं बनाए रखना जो कॉलेज में सभी समर्थन प्रणाली, शिक्षण के निरंतर सुधार एवं सीखने की प्रणाली को सुनिश्चित करे।

  9. गुणवत्ता आश्वासन के प्रभावी प्रबंधन में मदद करने के लिए गुणवत्ता सुधार के औसत दर्जे के मापदंडों को कवर करने के लिए एक प्रबंधन सूचना प्रणाली की स्थापना करना।

  10. उपयुक्त पाया के रूप में गतिविधि के सभी क्षेत्रों के लिए मानक / मानक और / या लक्ष्य पर नजर रखना, लागू करना और विकसित करना।

  11. एक ऐसी एकीकृत योजना और गुणवत्ता आश्वासन चक्र की स्थापना करना जो प्रभावी रूप से सभी कॉलेजों के संचालनों और जो गाइड संगठन में सूचना का संचार करे।

  12. निरंतर सुधार प्रणाली को बनाए रखने के लिए कर्मचारियों की क्षमता का निर्माण करने के लिए प्रशिक्षण और विकास प्रदान करने के लिए; योजना बनाना और ट्रेनिंग मुहैया कराना।

  13. छात्रों, शिक्षकों, कर्मचारियों, भागीदारों, सरकार और स्थानीय समुदायों: सहित अपने हितधारकों के साथ सभी संबंधों में जिम्मेदारी और जवाबदेही सुनिश्चित करना।

नीति का विवरण

यह नीति उस इच्छा की अभिव्यक्ति है जो कॉलेज को लगातार गुणवत्ता को उन्नत करते हुए सर्वश्रेष्ठ शिक्षा देने के लिए प्रतिबद्ध होने और निरंतर मानकों का संवर्धन करते हुए अपने दृष्टिकोण और उद्देश्य के साथ नियमो और विश्विद्यालयों के मार्गदर्शक सिधान्तो को गढती जाये और गुणवत्ता विनियमों को पूरे संस्थान में उपलब्ध कराने के साथ प्रबंधन, शिक्षण संकाय और पूरे स्टाफ को परिवर्तनकारी सुधार के माध्यम से विद्यार्थियों को उनकी पूरी शक्ति का अनुभव कराते हुए और अन्य हितकारकों को सबसे बेहतर तरीके से शामिल करते हुए फैलाए।

बीएनसी यह विश्वास दिलाती है कि इसे कार्यों और सेवाओं की गुणवत्ता और इसकी आवश्यक प्रथाओं तथा प्रतिक्रियाओं को उद्देश्य के लिए फिटनेस साथ ही साथ अनुपालन और विशिष्ट क्षेत्रों के शिक्षण, शिक्षा एवं अनुसंधान से संबंधित प्रक्रियाओं को अपनाएगी। गुणवत्ता आश्वासन प्रतिबद्धता के विशिष्ट क्षेत्रों में शिक्षण, शिक्षा और अनुसंधान से संबंधित प्रक्रियाओं और प्रथाओं के रूप में अच्छी तरह से संसाधनों और सेवाओं में शामिल हैं; इसका आकलन और मूल्यांकन; अकादमिक सहायता और छात्र प्रगति; हितधारक और समुदाय के साथ साथ बातचीत; प्रशासन और नेतृत्व और नई परिवर्तन को अपनाना।

बीएनसी यह जानने के लिए कि कॉलेज का विजन और मिशन प्राप्त हो गया है, कॉलेज के शैक्षिक और प्रशासनिक क्षेत्रों सहित महाविद्यालय के सभी पहलुओं में वितरण की गुणवत्ता की निगरानी, समीक्षा, मापन और सुधार में मूल्यांकन तंत्रों का उपयोग करेगा। ये तंत्र भी निरंतर सुधार के लिए औपचारिक रूप से अनुसूचित आवधिक समीक्षा के अधीन किया जाएगा।

कॉलेज, विश्वविद्यालय के एक घटक कॉलेज के रूप में सक्रिय रूप से पाठयक्रम पहलुओं के संबंध में विश्वविद्यालय द्वारा की गई पहलों में भाग लेंगे।

गुणवत्ता नीति के कार्यान्वयन

कॉलेज ने एक आंतरिक गुणवत्ता आश्वासन सेल (IQAC) गुणवत्ता आश्वासन नीति वक्तव्य में की गई प्रतिबद्धताओं को प्राप्त करने में मदद करने के लिए विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के दिशा निर्देशों के अनुसार गुणवत्ता में निरंतर सुधार के माध्यम से उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए बल ड्राइविंग के लिए स्थापित किया है।

आईक्यूएसी ने निम्नलिखित संयोजन को निश्चित किया है।

  1. प्रधानाचार्य –अध्यक्ष

  2. समन्वयक –सदस्य सचिव

  3. पांच वरिष्ठ अध्यापक – सदस्यगण

  4. एक वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी – सदस्य

  5. गुणवत्ता प्रबंधन / उद्योग / स्थानीय समुदाय पर दो बाहरी विशेषज्ञ - सदस्यगण

  6. छात्रों के दो प्रतिनिधि

  7. पूर्व छात्रों के दो प्रतिनिधि

आवश्यकतानुसार IQAC अधिक सदस्यों को शामिल कर विस्तारित किया जा सकता है। विशिष्ट क्षेत्रों या कार्यों में सुधार हेतु IQAC गुणवत्ता हलकों को स्थापित कर सकता है या बढ़ावा दे सकता है। मार्गदर्शक और गुणता आश्वासन (QA) और गुणवत्ता संवर्धन (QE) कॉलेज की गतिविधियों की निगरानी, योजना बनाने के लिए IQAC एक आंतरिक तंत्र होगा। यह एक सुविधाजनक और सहभागिता अंग है जो गुणवत्ता कायम रखने के लिए इसकी कमियों को दूर करके और गुणवत्ता बढ़ाने के लिए हस्तक्षेप करने वाली रणनीतियों के बाहर काम करके एक प्रेरणा शक्ति बन जाता है। भविष्य की ओर इसकी मूल प्राथमिकता होगी और ये आवश्यक संगठनात्मक संस्कृति बनाने के द्वारा परिवर्तन के परिवर्तन मॉडल पर निर्भर करेगा।

IQAC की निम्नलिखित मुख्य जिम्मेदारियां हैं:

  1. यह संस्था के शैक्षणिक और प्रशासनिक प्रदर्शन में सुधार करने हेतु, सचेतन, निरंतर और उत्प्रेरक कार्रवाई के लिए एक प्रणाली विकसित करेगा।

  2. यह अकादमिक उत्कृष्टता की दिशा में कॉलेज के मानकों को और प्रयासों को व्यवस्थित करेगा एवं इनके बीच माध्यम बनेगा।

  3. यह गतिविधियों और प्रक्रियाओं का मानकीकरण की दिशा में काम करेगा और मानकों और उनकी उपलब्धि में निरंतर सुधार के ल&