संक्षिप्त इतिहास

 

1993 में स्थापित

भगिनी निवेदिता कॉलेज (बीएनसी) दिल्ली विश्वविद्यालय का घटक कॉलेज है। इसकी स्थापना अगस्त 1993 में कन्या कालेज के तौर पर दिल्ली प्रशासन ने दक्षिण-पश्चिमी दिल्ली के बाहरी क्षेत्र में की थी। अब इसे दिल्ली सरकार की ओर से वित्त एवं सहयोग दिया जाता है।

सिस्टर निवेदिता को समर्पित

कॉलेज सिस्टर निवेदिता के नाम पर स्थापित किया गया, जो स्वामी विवेकानंद की शिष्या थीं और जिन्होंने अपना पूरा जीवन शिक्षा एवं महिला कल्याण को समर्पित कर दिया था। इसका कैम्प्स नजफगढ़ के निकट कैर ग्राम के साथ स्थित है जिसके चारों ओर खलिहानों एवं वृक्षों से घिरा स्वच्छ एवं हरित वातावरण है।

शुरुआती कोर्स

वर्ष 1993 में हिन्दी में केवल बी.ए. (पास), बी.ए. (ऑनर्स) कोर्सेज से शुरुआत के बाद से अब तक बीएनसी ने नए कोर्सेज की शुरुआत के साथ व्यापक तरक्की की है। 1996-97 में बी.कॉम (पास) की शुरुआत की गई थी। 1997 में बीएनसी दिल्ली विश्वविद्यालय का पहला कॉलेज बना जिसने अपेरल डिजाइन एंड कंस्ट्रक्शन की शुरुआत की गई थी।

नए कोर्सेज़ की शुरुआत

वर्ष 2004 में बी.ए. (पास) की शुरुआत की गई थी। इसी के साथ कुछ अन्य नए एप्लिकेशन कोर्सेज की भी शुरुआत हुई थी। 2007 में बी.एससी. अप्लाइड फिजिकल साइंसेज कोर्स के साथ बीएनसी आट्र्स, कॉमर्स एवं साइंस कॉलेज के तौर पर जाना गया।

सेमेस्टर सिस्टम का आरंभ

सभी कोर्सेज के लिए सेमेस्टर सिस्टम की शुरुआत 2010 में हुई थी। प्रत्येक कोर्स में छह सेमेस्टर होते हैं और प्रत्येक सेमेस्टर में छात्रों को समूचा कोर्स पूरा करने के लिए विभिन्न पेपर्स पास करने होते हैं। वार्षिक प्रणाली को 2013 में पूरी तरह से हटा दिया गया था।

एफवाईयूपी में ऑनर्स कोर्स की शुरुआत

कॉलेज में 2013-14 अकादमिक वर्ष से साथ फोर ईयर अंडरग्रेजुएट प्रोग्राम (एफवाईयूपी) की शुरुआत हुई थी और इसमें निम्न विषय/कोर्सेज की शुरुआत की गई।

  1. कॉमर्स
  2. हिन्दी
  3. इतिहास
  4. होम साइंस
  5. भौतिकी एवं
  6. राजनीति विज्ञान

एफवाईयूपी की समाप्ति

यूजीसी के निर्देशानुसार यूनिवर्सिटी में 2014-15 में एफवाईयूपी को वापस लिया गया। नतीजतन, एफवाईयूपी के अंतर्गत आने वाले कोर्सेज को 2015-16 में समाप्त किया गया।

वर्तमान स्थिति

कॉलेज अंडरग्रेजुएट स्तर पर निम्न प्रोग्राम्स प्रस्तुत करता है:

  1. बी.ए. ऑनर्स (हिन्दी)
  2. बी. ए.  (ऑनर्स) इतिहास
  3. बी. ए.  (ऑनर्स) राजनीति शास्त्र
  4. बी.ए. प्रोग्राम
  5. बी.कॉम
  6. बी.एस.सी फिजिकल साइंस
  7. बी.एस.सी (ऑनर्स) होम साइंस
  8. बी.एस.सी (ऑनर्स) फ़िज़िक्स

नए प्रवेश लगातार चल रहे हैं।

बीएनसी में टीचिंग फैकल्टी की कुल संख्या 70 है। कॉलेज में कार्यरत नॉन-टीचिंग स्टाफ की संख्या करीब 40 है।

अपने शुरुआती समय से बीएनसी ने अकादमिक एवं खेल जगत में अपनी असाधारण प्रतिष्ठा एवं रिकॉर्ड बनाया है। इसकी टीचिंग फैकल्टी में उच्चकोटि के शिक्षक हैं। यहां बेहतरीन प्रयोगशालाएं, बुनियादी सुविधाएं एवं सपोर्टिंग स्टाफ है।

स्कूल स्तर पर अच्छा अकादमिक रिकॉर्ड न प्राप्त करने वाले छात्रों को यहां दाखिला देने के बावजूद कॉलेज की खास बात यह है कि यह अपने प्रत्येक क्षेत्र में बेहतरीन नतीजे देता है।